Computer क्या है? कंप्यूटर को किसने बनाया?

Computer क्या है? कंप्यूटर को किसने बनाया?

computer in hindi ( कंप्यूटर क्या है?) कंप्यूटर एक इलेक्ट्रॉनिक उपकरण है जिसे सूचना के साथ काम करने के लिए डिज़ाइन किया गया है।

आज के समय में ज्यादातर काम कंप्यूटर के बिना संभव नहीं है और ऐसे में हर किसी को कंप्यूटर के बारे में जानना बेहद जरुरी हो गया है चाहे well Educated हो या कम पढ़े लिखे हो| आप लोग सोच रहे होंगे की हमलोग तो कंप्यूटर के बारे में जानते है तो ये पोस्ट क्यों पढ़े, रुकिए, रुकिए दोस्त आप जरूर जानते होंगे लेकिन इस पोस्ट में मैं पूरा डिटेल में बताया हूँ हो सकता है आपलोग इसमें कुछ चीज़ नहीं जानते हो और कुछ चीज़ जानते हो|तो इसलिए आपको ये पूरा पोस्ट पढ़ना चाहिए, ताकि आपको पूरी जानकारी मिल सके, तो चलिए जानते है computer in hindi – कंप्यूटर क्या है? डिटेल में|

Computer क्या है? ( What is Computer in Hindi )

what is computer in Hindi? कंप्यूटर एक इलेक्ट्रॉनिक उपकरण है जिसे Information के साथ काम करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। कंप्यूटर शब्द लैटिन शब्द computer “computare”से लिया गया है, इसका मतलब है कि गणना करने योग्य मशीन या प्रोग्राम करने योग्य मशीन। बिना प्रोग्राम के कंप्यूटर कुछ भी नहीं कर सकता है। यह बाइनरी अंकों की एक स्ट्रिंग के माध्यम से दशमलव संख्याओं का प्रतिनिधित्व करता है। शब्द ‘कंप्यूटर’ आमतौर पर केंद्र प्रोसेसर इकाई प्लस आंतरिक मेमोरी को संदर्भित करता है।

Charles Babbage को कंप्यूटर का “ग्रैंड फादर” कहा जाता है। Charles Babbage द्वारा डिजाइन किए गए पहले मैकेनिकल कंप्यूटर को एनालिटिकल इंजन कहा जाता था। यह पंच कार्ड के रूप में Read-only memory का उपयोग करता था। कंप्यूटर एक उन्नत इलेक्ट्रॉनिक उपकरण है जो उपयोगकर्ता से इनपुट(Input) के रूप में row डेटा लेता है और इन डेटा को निर्देशों के सेट (Input) के नियंत्रण में संसाधित करता है और परिणाम (Output) देता है और भविष्य के उपयोग के लिए Output सुरक्षित करलेता है। यह Numeric and non-numeric (arithmetic and logical) दोनों गणनाओं को संसाधित कर सकता है।

कंप्यूटर एक ऐसा मशीन है जो काफी तेजी से काम करता है और एक साथ कई काम कर सकता है

Computer का फुल फॉर्म क्या है? What is the full form of computer in Hindi?

कंप्यूटर का फुल फॉर्म हर कोई अलग अलग बताता है वैसे ये कोई शॉट फॉर्म नहीं है लेकिन लोग अपने मन से काल्पनिक बना कर कुछ भी बता देते है और मैं जो मानता हूँ वो बता रहा हूँ|

C – Commonly, O – Operated, M – Machine, P – Particularly, U – Used For, T– Technology, E – Education and, R – Research

Computer का इतिहास

चलिए कंप्यूटर के इतिहास को जानते हैं generation wise -कंप्यूटर के इतिहास को पांच भाग में बाँटा गया है|

First Generation Vaccum Tubes (1940-1956)

पहले generation के computer में vaccum tubes को circuitry और magnetic drum के रूप में मेमोरी के लिए इस्तेमाल करते थे. इनका आकर काफी बड़ा होता था लगभग आप एक रूम में रखे तो पूरा रम भर जायेगा, इन computers लिए काफी ज्यादा बिजली खर्च होती थी. इसके अलावा ये बहुत heat भी generate करते थे जिससे की malfunction की भी प्रॉब्लम होती थी. ये मशीन language का इस्तेमाल होता था, जैसे उदहारण के लिए UNIVAC और ENIAC.

Second Generation Transistor (1956-1963)

Second generation के computers में vaccum tubes को हटा कर transistor का इतेमाल किया गया . Transitors का अविष्कार Bell labs ने 1947 में किया था. ये transistors vaccum tube की तुलना में कई गुना बेहतर थे क्यों की ये बहुत fast होने के साथ ही कम electricity भी इस्तेमाल करते थे जिससे इसको चलने का खर्च काफी हद तक काम होगया. Second generation computer में machine language की जगह Assembly language का इस्तेमाल होने लगा, इस में COBOL और FORTRAN high-level language के रूप में इस्तेमाल किया गया.

Third Generation Integrated circuits (1964-1971)

Third generation में Integrated circuits के जगह transistors का इस्तेमाल हुआ . अब transistor काफी छोटे हो गया था जिसे silicon chips के अंदर डाला गया और उसे semiconductor बोला जाता है. इसने computer की स्पीड और efficiency काफी ज्यादा बढ़ा दी. Punch card और printout की जगह अब keyboard और Monitor का इस्तेमाल होना शुरू हो गया, जिस के लिए operating system का प्रयोग किया गया .

Fourth generation Microprocessor (1971-Present)

इस generation में computer के के लिए microprocessor का इस्तेमाल किया गया| integrated circuits को एक silicon chip के अंदर built कर दिया जिसके कारण मशीन का साइज काफी छोटा हो गया, microprocessor इस्तेमाल से बहुत ही कम समय में बड़े बड़े काम बहुत ही आसानी से करने लगा|

Fifth Generation Artificial Intelligence ( Present and beyond)

Fifth generation computer आज के समय है जिसमे बड़े पैमाने पर artificial intelligence काम कर रहा है, अब और भी नए नए Technology इस्तेमाल में आने लगे हैं जैसे voice recognition. Quantum calculation parallel processing artificial intelligence. Artificial intelligence होने से computer पर आत्मनिर्भरता बढ़ गई है जिसके कारन कम्प्यूटर्स स्वयंम Decision ले सकते हैं| (Computer in Hindi)

Computer का अविष्कार किसने किया

Charles Babbage को कंप्यूटर का “ग्रैंड फादर” कहा जाता है क्यूंकि उन्होंने ही 1837 में Analytical Engine बनाया था वैसे Computing Field में काफी लोगो का योगदान रहा हैं लेकिन इनसबसे ज्यादा Charles Babbage का रहा हैं इसलिए उन्हें कंप्यूटर का “ग्रैंड फादर” कहा जाता है|

हालांकि Charles Babbage ने अपने जीवनकाल में कभी अपना आविष्कार पूरा नहीं किया, लेकिन उनके दृढ़ विचारों और कंप्यूटर की अवधारणाओं ने उन्हें कंप्यूटिंग का पिता बना दिया।

कंप्यूटर का परिभाषा क्या है

कंप्यूटर एक इलेक्ट्रॉनिक उपकरण है जिसे Information के साथ काम करने के लिए डिज़ाइन किया गया है कंप्यूटर के कुछ महत्पूर्ण Components होते हैं जैसे :-

accepts data Input
processes data Processing
produces output Output
stores results Storage

कंप्यूटर कैसे काम करता हैं?

what is computer in hindi

कंप्यूटर में मुख्य 3 Step होते है किसी भी result को दिखने के लिए

Input :- ये वो step होता है जिसमे Raw Data को Input Device के माध्यम से computer में डाला जाता है Input Device:- Keyboard, Mic, Mouse, Scanner, Webcam इत्यादि|

Process :- इस step में Internal Process होता है Central Process Unit में Input किये गए data को Instruction के अनुसार Process करता है|

Output :- इस step में processed data को result के तौर Output device के माध्यम से देता है और हम चाहे तो इस Data को Save कर सकते है| Output deviceMonitor, Printer, Speaker, Data, Projector इत्यादि|

Digital Marketing Kya Hai Hindi – डिजिटल मार्केटिंग क्या है?

Computer के मुख्या पार्ट्स in Hindi

दोस्तों आपलोगो ने अगर कंप्यूटर खोल कर देखा होगा तो आपको काफी कॉम्प्लिकेटेड लगा होगा हो सकता है कुछ लोग कंपोनेंट्स को पहचानते न हो या उसके बारे नहीं जानते हो तो मैं अब उन्ही components के बारे में बताने जा रहा हूँ|

Motherboard

what is computer in hindi

किसी भी कंप्यूटर का मुख्य circuit board को Motherboard कहा जाता है. इस पर काफी चीजे लगी होती है जैसे CPU, Memory, Connectors hard drive और Optical Drive के लिए, expansion card Video और Audio को control करने के लिए, इसके साथ साथ कंप्यूटर के सभी Ports को connection. कंप्यूटर के सारे पार्ट्स के साथ directly या in directly जुड़ा हुआ होता है.

CPU/Processor

what is computer in hindi

CPU क्या है? CPU का फुल फॉर्म Central Processing Unit होता है ये कंप्यूटर के Motherboard में होता है. इसके भीना कंप्यूटर कुछ भी नहीं कर सकता है आप कह सकते है की कंप्यूटर का दिमाग है. जो भी डाटा कंप्यूटर को इनपुट के माध्यम से उसे CPU प्रोसेस करके रिजल्ट तैयार करता है|

RAM क्या है

what is computer in hindi

RAM क्या है? RAM का फुल फ्रॉम Random Acess Memoryहोता है ये System का Short Term Memeory होता है. जब भी कभी कंप्यूटर कुछ कैलकुलेशन करता हैं तब ये temporarily उस result को RAM में save कर देता हैं. अगर कंप्यूटर बंद हो जाये तो ये डाटा भी खो जाता है.

Hard Drive

what is computer in hindi

Hard Drive में हम software, documents और दुसरे file को save किया जाता है. इसमें data लम्बे समय तक store होकर रहता है. hard Drive को MegaBytes (Mb), GigaBytes (Gb), Terabyte (Tb) में मापा जाता है|

UPS क्या है?

what is computer in hindi

UPS का फुल फ्रॉम Uninterruptible Power Supply होता है| UPS का काम backup देना होता है इसका मतलब अगर आप कोई काम कर रहे है और बिजली कट जाये तो UPS आपको बैकअप देता है जिसे आपका कंप्यूटर बंद नहीं होगा और आप काम कर सकते है और अपने डाटा को सुरक्षित कर सकते है|

Expansion Card

Expansion card

सभी Computers में Expansion Slots होते हैं जिससे की हम अपने जरुरत के हिसाब से Future में कोई Expansion Card को add कर सकें. इन्हें PCI (Peripheral Components Interconnect) card भी कहा जाता है. लेकिन आज कल के Motherboard में built in ही कई Slots पहले से होते हैं निचे कुछ expansion card के नाम दिए गए है|

  • Video Card
  • Sound card
  • Network Card
  • Bluetooth Card (Adapter)

Compute Hardware क्या है?

Compute hardware हम उसे कहते है जो physical हो जिसे आप छू सकते महशूस कर सकें जैसे Monitor, Printer, Keyboard, Mouse, Speaker इत्यादि|

Compute Software क्या है

Software को हम ना छू सकते और ना देख सकते है जैसे Operating System, Excel, Word, Power Point इत्यादि, Software के बिना कंप्यूटर कुछ भी नहीं कर सकता है आप कह सकते है कंप्यूटर का दिल Software है क्योंकि Software के बिना कंप्यूटर निर्जीव है|

Computer के प्रकार

कंप्यूटर 4 प्रकार का होता है तो चलिए कंप्यूट के प्रकार के बारे में जानते है की कौन कौन से प्रकार होते है और किसका क्या काम होता है|

Micro Computer

Micro Computer एक ऐसा कंप्यूटर है जिसमें माइक्रो-प्रोसेसर इसके सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट के रूप में होता है। मेनफ्रेम और मिनी कंप्यूटरों की तुलना में इनका आकार छोटा होता है। इसे पर्सनल कंप्यूटर भी होते हैं ये कंप्यूटर 1970 और 1980 के दशक के दौरान आम था लेकिन अब आम तौर पर इसका उपयोग नहीं होता है

संक्षिप्त नाम “माइक्रो ” 1970 और 1980 के दशक के दौरान आम था,[4] लेकिन अब आम तौर पर इसका उपयोग नहीं होता है|

Mini Computer

Mini Computer ये कंप्यूटर Micro Computer से बढ़ा और Mainframe कंप्यूटर से छोटा होता है इनका उपयोग छोटे अथवा मध्य range वाले बिजनेस इत्यादि में काम में लिया जाता है , आजकल मिनी कंप्यूटर शब्द को हटा दिया गया है और इसको server शब्द के साथ merge कर दिया गया है ||

पहला मिनी कंप्यूटर 1960 के दशक में बनाया गया और यह डेवलपमेंट IBM कॉरपोरेशन द्वारा किया गया , प्रारंभ में यह कंप्यूटर बिजनेस एप्लीकेशन और सर्विस को मध्य नजर रखते हुए बनाया गया क्योंकि इनकी परफॉर्मेंस और कार्य क्षमता मेनफ्रेम कंप्यूटर के समान ही थी |

Mainframe Computer

What is JPEG in Hindi – JPEG क्या हैं?

Mainframe Computer सन 1940 में IBM द्वारा बनाया गया था। मेनफ़्रेम कंप्यूटर साइज़ में काफी बड़ा होता है और इसकी storage छमता भी काफी ज्यादा होती है Mainframe Computer ज्यादातर बैंको में इस्तेमाल किया जाता है|

Super Computer

Super Computer इन सरे कंप्यूटर के मुकाबले काफी पावरफुल होता है और ये काफी फ़ास्ट काम करता हैं ये प्रति सेकंड 16,000 ट्रिलियन गणना की गति से संसाधित करता है मुख्य रूप से उन उद्यमों और संगठनों में उपयोग किए जाने के लिए डिज़ाइन किए गए हैं, जिन्हें बड़े पैमाने पर कंप्यूटिंग शक्ति की आवश्यकता होती है। परंपरागत रूप से, सुपर कंप्यूटर का उपयोग वैज्ञानिक और इंजीनियरिंग अनुप्रयोगों के लिए किया जाता है

Micro या Personal Computer

Desktop Computer : एक माइक्रो या पर्सनल कंप्यूटर को आप एक डेस्क पर रख कर काम कर सकते है

Laptop Computer: लैपटॉप का मतलब आप गोद में रख कर उपयोग कर सकते है ये आकर में डेस्कटॉप से भी छोटा होता है और इसका एक और फायदा होता है की इसमें इसकी बैटरी इनबिल्ड होती है जिसके कारण आप इसे अपने बैग में दाल कर कही भी ले जा सकते हैं और कही से भी अपने काम को कर सकते है|

Pamtop Computer : पामटॉप कंप्यूटर लैपटॉप से भी छोटा होता है जिसे आप अपने पाम यानि हथेली पर रख कर अपना काम कर सकते है| इसमें keyboard अलग से नहीं होता है इसमें डिस्प्ले पर ही इनपुट और आउटपुट दोनों प्रोसेस को कर सकते है|

Computer का उपयोग

Computer के उपयोग के बारे में बात करें तो लगभग सारे संस्थावों, कॉलेजो, स्कूलों, अस्पतालों इत्यादि जगहों पर बड़े पैमाने उपयोग किया जाता है, कंप्यूटर हमारे जीवन का एक अहम भाग बनगया तो चलिए जानते है की किस किस संथाओं में किस काम के लिए उपयोग किया जाता है|

Education Sector

शिक्षा के छेत्र में कंप्यूटर का इस्तेमाल बड़े पैमाने पर किया जा रहा है आज कल किसी को कुछ भी जानना होता है तो वो किसी से पूछता नहीं है सीधा इंटरनेट के माध्यम से जानकारी प्राप्त करलेता है आजकल लोग घर बैठे online Class ले रहे है घर बैठे लोग अपनी पढ़ाई कर रहे है आज computer का उपयोग हर कॉलेज, स्कूल में किया जा रहा है अलग अलग कामो के लिए चाहे वो बच्चो को पढ़ाना हो या बच्चों का exam पेपर तैयार करना या बच्चों का admission करना इत्यादि कामो के लिए उपयोग किया जा रहा है|

Health Sector

आज हर अस्पतालों में कंप्यूटर का उपयोग किया जा रहा है चाहे वो बिलिंग के लिए हो या record maintain करने के लिए और कंप्यूटर ने अपना काफी योगदान दिया हैं medicine पर रिसर्च करने में भी medicine रिसर्च सेंटर में बड़े पैमाने पर कंप्यूटर का उपयोग किया जा रहा है|

Science Sector

कंप्यूटर विज्ञानं का ही देन है और वही कंप्यूटर विज्ञानं को नई उमलब्धिया लेने में काफी मदद कर रहा है सबसे ज्यादा कंप्यूटर का इस्तेमाल विज्ञानं संस्थाओ में किया जा रहा है कंप्यूटर के मदद से दुनिया भर के Scientist एक साथ मिल का काम कर रहे है|

Government Sector

आज हर सरकारी संस्थाओ में कंप्यूटर का इस्तेमाल किया जा रहा है और सरकार इसको और बढ़ावा देने के लिए कई तरह के स्कीम चला रही है आज कंप्यूटर का उपयोग Traffic, Aviation, Education Broadcasting इत्यादि जगहों पर लगातार बढ़ रहा है|

How to Start Blogging in Hindi – ब्लॉगिंग कैसे शुरू करें?

Computer के advantage क्या है?

कंप्यूटर ने हमारे जीवन को आसान बना दिया है कंप्यूटर के accuracy, Speed, storage इत्यादि के कारण कंप्यूटर पर हमारी निर्भरता बढ़ती जा रही है तो चलिए इसके कुछ advantage एंड disadvantage के बारे में जानते है|

Speed – कंप्यूटर स्पीड के कारण हम अपने काम का कम समय में कर पाते है जिस काम में पहले 2 या 4 लोग करते थे उस काम को अब 1 आदमी कर सकता है जिससे हमारे टाइम की बचत होती है|

Storage : पहले हमें स्टोरेज के लिए काफी जगह की जरुरत होती थी जैसे पहले किसी संसथान में सैकड़ों फाइल है तो उसके लिए काफी जगह लगता था और अलमीरा में संभल कर रखना पड़ता था ताकि फाइल्स फटे ना लेकिन अब कंप्यूटर के होने से हम एक कंप्यूटर में लाखों फाइल स्टोर कर सकते है जिसके लिए किसी अलमीरा या ज्यादा जगह का कोई जरुरत नहीं है|

Computer के Disadvantage क्या है?

किसी चीज का advantage होता है तो उसका disadvantage जरूर होता है तो कंप्यूटर के भी कुछ disadvantage भी है तो चलिए Computer के Disadvantage भी जानते हैं|

Virus and Hacking: आज काल जिस तेजी से computer और internet का उपयोग बढ़ रहा है उसी तेजी से Virus and Hacking की संकट भी बढ़ रही है Virus एक ऐसा program होता जो आपके Computer किसी तरीके से आजाये तो आपको अपने काम को करने में काफी disturb कर सकता है Virus अन्य तरीको से आपके computer में आसकते है जैसे Internet के माध्यम से, Email Attachment के माध्यम इत्यादि से आसकते है| और Hacking एक unauthorized access होता है जो आपको पता नहीं होता की कौन आपके computer का उपयोग कर रहा है किसी भी computer को hack किसी Email Attachment, Virus, इत्यादि के माध्यम से क्या जा सकता है|

Employment: कंप्यूटर के आने से नौकरियों में कटौती होने लगा है जहा 10 लोग काम करते थे वहाँ अब एक आदमी कंप्यूटर के माध्यम से कर सकता है| ( What is Computer in Hindi )

निष्कर्ष – What is Computer in Hindi

दोस्तों मुझे उम्मीद है आप लोगो को What is Computer in Hindi (Computer Kya hai) अच्छे से समझ में आगया होगा क्योंकि हम हमेशा कोशिश करते हैं की अपने पाठको को सही और पूरी जानकारी दूँ अगर आपके मन में कोई सवाल या सुझाव हो तो आप हमें Comment में लिख सकते हैं आपके Comment से हमे हमें कुछ सिखने को मिलेगा और सुधारने को कृपया अपना राय जरूर दें|

अगर आपको ये पोस्ट अच्छा लगा हो तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ Share करें ताकि वो लोग भी जान सकें की What is Computer in Hindi (Computer Kya hai) इस पोस्ट को पढ़ने के लिए धन्यवाद हमारे साथ साथ जुड़े रहने के लिए हमें Follow करें Facebook और Twitter पर

loading…

Amit Bhardwaj

नमस्कार दोस्तों, मैं Amit Bhardwaj, Technical Basket का Technical Author & Founder हूँ. Education की बात करूँ तो मैं Computer Science Se Graduate हूँ. और प्रोफेशनली मैं एक वेब एंड ग्राफ़िक डिज़ाइनर हूँ और एक्सपीरियंस की बात करूँ तो मुझे 9 Years + का एक्सपीरियंस हैं ग्राफ़िक एंड वेब डिजाइनिंग में, मुझे नयी नयी Technology से सम्बंधित चीज़ों को सीखना और दूसरों को सीखने में अच्छा लगता है. अगर मेरा पोस्ट अच्छा लगे तो आप लोग अपना सहयोग दे ताकि मैं आप लोगो को नई नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहूँ :)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © 2019 -Technical Basket - All Rights Reserved.