SEO Friendly Blog Post Kaise Likhe? जो ब्लॉग पोस्ट रैंक करने में मदद करे?

SEO Friendly Blog Post Kaise Likhe? जो ब्लॉग पोस्ट रैंक करने में मदद करे?

दोस्तों कई बार नए ब्लोग्गर्स एक के बाद एक पोस्ट लिख़ते जाते है, लेकिन कोई भी पोस्ट First Page पर रैंक नहीं करता है काफी अच्छे से पोस्ट ऑप्टिमाइज़ या SEO करने के बाद भी रैंक नहीं होता है। दोस्तों इसका एक ही कारण है उनके द्वारा लिखे गए कंटेंट, आज के समय में Content को SEO का किंग कहाँ जाता है अगर आपका कंटेंट unique, informative और user Friendly नहीं है तो चाहें आप जितने भी अच्छे से SEO करलें लेकिन आपका पोस्ट पहले पेज पर रैंक नहीं करेंगे। दोस्तों अगर आप एक नए ब्लॉगर है तो इस पोस्ट को जरूर पढ़े इस पोस्ट में मैं इसी टॉपिक SEO Friendly Blog Post kaise likhe के बारे में बताने वाला हूँ। (how to write seo friendly blog posts in hindi )

SEO Friendly Blog Post Kaise Likhe? किसी भी आर्टिकल को रैंक करवाने के लिए SEO Strategy बहुत महत्पूर्ण है और इसी में से एक है High Quality Content जब Quality Content की बात करते हैं तो इसमें कई points आते हैं. जैसे

  • Make Informative Content
  • User Friendly Content
  • Check Traffic on Content Keyword
  • Keyword Proximity
  • Keyword Density
  • Keyword Prominence

Informative :

  • जब आपका Content Informative होगा तो आपके readers अच्छे से समझ पाएंगे और जब आपके readers को लाभ मिलेगा तो आपके ब्लॉग पर रेगुलर visit करेंगे जिसे आपके ब्लॉग की ट्रैफिक बढ़ेगी और reputation भी।
  • Article to the point होना चाहिए।
  • अपने पोस्ट में जो भी लिखें वो सही इनफार्मेशन होना चाहिए, अगर आपका इनफार्मेशन सही नहीं है तो रीडर्स को लाभ नहीं मिलेगा जिससे रीडर्स एक बार तो आजायेंगे लेकिन दूसरी बार नहीं आएंगे इसलिए जो भी आप इनफार्मेशन अपने ब्लॉग पर लिखते है वो सही इनफार्मेशन होना चाहिए।
  • यदि आपके पास genuine proof हो तो proof के साथ लिखें.
  • Post में कंटेंट से related Media (image & Video) जरूर use करें.

User Friendly Content

  • Blog का language कुछ भी हो लेकिन हमेशा Simple Word Use करें.
  • Readers आपके द्वारा दी गई जानकारी पढने आते हैं आपकी Writing Level check करने नहीं आते हैं.
  • जितना Simple words लिखेंगे उतना ही आपको benefit होगा.

Check Traffic on Content Keyword

  • किसी भी Keyword पर पोस्ट लिखने से पहले Check करें की उस particular keyword पर कितना ट्रैफिक है क्योंकि अगर searches ही नहीं होगा तो उस कीवर्ड पर पोस्ट लिखने का कोई मतलब नहीं है।
  • number of searches जानने के लिए Google Adwords का keyword planner tool इस्तेमाल करके ट्रैफिक चेक कर सकते है किसी पर्टिकुलर कीवर्ड पर कितना ट्रैफिक है या कितना कम्पटीशन है। वैसे काफी सारे टूल्स है जिन्हे आप इस्तेमाल करके चेक कर सकते है।

Keyword Proximity

जब भी आप कोई Post लिखते है, तो जिस भी कीवर्ड पर आप पोस्ट लिखते है उस Keyword की Density काफी महत्व रखता है। किसी भी पोस्ट में Keyword stuffing नहीं करना चाहिए इससे seo रैंकिंग में इफ़ेक्ट पड़ता है। Keyword stuffing का मतलब है आपका पोस्ट जिस keyword पर है उस Keyword को अपने पोस्ट में ज्यादा से ज्यादा लिखना keyword stuffing कहलाता हैं। main keyword की density 0.5% से 3% के बिच होना चाहिए। ये परसेंटेज कैलकुलेट होता है आपके शब्द के count के हसाब से।

Keyword Prominence

Article में keywords के placement को keyword prominence कहते हैं. पोस्ट में keyword का जहां भी उपयोग करें तो एक बात ध्यान रखें की keyword match करें ऐसा नहो की sentence अलग है और उसमे आपने keyword अलग से दाल दिया है इसे भी आपके ब्लॉग की रैंकिंग down हो सकती है।

SEO Friendly Blog Post Kaise Likhe?

हो सकता है आप काफी अच्छा आर्टिकल लिख रहे हो और heading, Keyword, title भी अच्छे से लिख रहें हो फिर भी आपका आर्टिकल पहले पेज पर नहीं आरहा है तो दोस्तों इसका एक कारण है की आपका पोस्ट seo Friendly नहीं है। तो दोस्तों चलिए अब जानते है की seo friendly blog post कैसे लिखतें है। निचे दिए गए टॉपिक को फॉलो करें।

On Page SEO क्या है और इससे ब्लॉग पर ट्रैफिक कैसे बढ़ाये? इस पोस्ट को पढ़े

1. Keyword Research

सबसे पहले मैं उनलोगो को बता दूँ जिन्हें ये पता नहीं है की keyword क्या होता है? किसी भी Search Engine (Google, Bing, yahoo इत्यादि ) पर कोई भी word या sentence लिख कर कुछ भी सर्च करतें है तो उस word या sentence को keyword कहतें हैं।

जैसे google पर कोई सर्च करता है Backlink क्या है? Quality Backlink कैसे बनाये? तो ये एक keyword है। अब बात आती है keyword research कैसे करें? research के लिए आपको tools का उपयोग करना पड़ेगा। google का free tool है, adwords का keyword planner इससे आप research कर सकतें है, की कौन सा keyword अच्छा है किस keyword पर कितना traffic है या किस keyword पर कितना competition है।

ये सब चेक करने के बाद आप एक low competition और high traffic वाला keyword चुन कर अपने आर्टिकल में यूज़ करें। एक महत्पूर्ण बात और है, अपने आर्टिकल में long tail keyword का उपयोग जरूर करें। इससे आपका short tail keyword भी रैंक होता है।

मैं बता दूँ की long tail keyword क्या है? और short tail keyword क्या है? जैसे अगर हम लिखें 6 Best Blogging Platform in hindi 2019 – Especially For Beginners तो ये एक long tail keyword है। और अगर हम लिखें Best Blogging Platform तो ये short tail keyword है। तो दोस्तों आप अपने पोस्ट में long tail keyword का उपयोग जरूर करें।

और अपने पोस्ट में LSI Keyword का भी उपयोग जरूर करें। LSI का फुल फॉर्म Latent Semantic Indexing होता है। और मैं बतादूँ की LSI Keyword क्या होता है। main keyword से relevance या related keyword, LSI Keyword होता है।

इससे Google को मेह्जुदा content को समझने और सही search के हिसाब से धुंडने में आसानी होती है. इससे आपके article की search relevancy बढ़ जाती है. अगर आप LSI Keywords का इस्तमाल Main Keywords के साथ करे तब आपका article और भी ज्यादा Seo Friendly हो जाता है।

Off Page SEO kya hai और कैसे करें इस पोस्ट को पढ़े

2. Keyword को title में डालें

किसी भी आर्टिकल के लिए टाइटल काफी महत्पूर्ण होता है। और आर्टिकल जिस topic पर है उसी अनुसार टाइटल रखना चाहिए। और टाइटल में हमेशा आर्टिकल का मेन कीवर्ड रखें। जैसे – ये पोस्ट आप पढ़ रहे है और ये पोस्ट SEO Friendly article लिखने के बारे में है। तो इसका टाइटल SEO Friendly Blog Post Kaise Likhe है और ये ही इस आर्टिकल का main Keyword है। हमेशा वही Focus Keyword और टाइटल होना चाहिए जो आपका main keyword है। ऐसी गलती कभी ना करें की आपका article किसी और topic पर है और title कुछ और है। इससे आपकी रैंकिंग काफी डाउन जाएगी जिससे आपके ब्लॉग पर ट्रैफिक काम होगी और आप एक ब्लॉगर है तो ट्रैफिक काम होने का मतलब आपको जरूर पता होगा।

3. पहले paragraph में keyword का इस्तेमाल करें

इस बात पर भी आपको ध्यान देने की जरुरत है की अपने आर्टिकल के पहले paragraph में keyword हो, इससे आपको SEO में मदद मिलेगी और रैंकिंग बढ़ेगी। – On Page SEO क्या है  ये एक keyword है और इस टॉपिक के आर्टिकल में ये कीवर्ड का सबसे पहले पैराग्राफ में जरूर इस्तेमाल होना चाहिए। और पुरे आर्टिकल में आप कही भी कीवर्ड का इस्तेमाल करें लेकिन ध्यान रहे की natural रूप से इस्तेमाल हो, बिना मतलब कीवर्ड को कही भी डालना keyword Stuffing कहलाता है। इससे भी ब्लॉग और पोस्ट दोनों की रैंकिंग डाउन होती है।

4. Image में Alt tag का इस्तेमाल करें

Search Engine, images को read नहीं करता है, इसलिए आपको सर्च इंजन को बताना होता है की आपने इमेज का इस्तेमाल किया है Alt Tag में आपको इमेज का नाम डालना होगा। जिससे सर्च इंजन को यह पता चलेगा की image किससे सम्बंधित है। alt Tag में हमेशा keyword का उपयोग करें, इससे आपका पोस्ट optimize होगा। जैसे कोई पोस्ट blogging से रिलेटेड है तो image alt tag में blogging डालें।

और आप कोई भी इमेज का इस्तेमाल करें तो उस image को compress करके इस्तेमाल करें। इससे load time काम होगा और load time boost होगा। इससे भी seo में मदद मिलेगी।

5. Heading और subheading (H1, H2 और H3 Tag ) का प्रयोग करें

सही से heading का इस्तेमाल करना काफी महत्पूर्ण होता है। पोस्ट का टाइटल हमेशा H1 में होता है। H2 Heading और H3 subheading होता है। एक बात हमेशा ध्यान रखें heading में keyword का उपयोग करें लेकिन Exact keyword नहीं बल्कि थोड़ा बदलाव करके इस्तेमाल करें। जैसे – मानलीजिए किसी पोस्ट का टाइटल है on-page seo कैसे करें? तो इसमें थोड़ा सा बदलाव करके लिखे on-page seo से ट्रैफिक कैसे बढ़ायें।

6. Important और Related keyword को Highlight करें

Important और Related keyword को bold करें इससे भी आपका पोस्ट Seo friendly होता है। और user friendly भी होता है। जिससे readers को भी आसानी होता है content खोजने और पढ़ने में।

7. कुछ Italic keyword का इस्तेमाल करें

कुछ इम्पोर्टेन्ट कीवर्ड को italic करें इससे भी आपका पोस्ट seo फ्रेंडली होता है। लेकिन ये बात भी ध्यान रखें की कोई same word बार बार repeat न हो और ज्यादा सेंटेंस को भी इटैलिक ना करें 2-3 word को ही italic करें।

8. Outbound link जोड़ें

ये भी काफी महत्पूर्ण होता है seo friendly article बनाने के लिए। क्योंकि google Outbound link को काफी महत्व देता है। जैसे मानलीजिए Backlink क्या है? Quality Backlink कैसे बनाये? इस में backlink word को backlink wikipedia लिंक से जोड़ सकते है सकते है। ऐसे कई sites है जिसको अपने article के किसी word से लिंक कर सकते है। जैसे – Facebook, Twitter, Microsoft इत्यादि

9. Internal Linking करें

internal linking का मतलब एक article में अपने दूसरेआर्टिकल का लिंक डालना होता है जैसे मन लीजिये कोई article है professional blogging कैसे करें और इस टॉपिक से रिलेटेड कोई दूसरा आर्टीकल है ( ब्लॉग कैसे बनाएं ) तो इसका लिंक अपने professional blogging वाले पोस्ट के बिच में कही इस्तेमाल करना internal linking कहलाता है। इससे आपका पोस्ट ऑप्टिमाइज़ भी होगा और अगर इस पोस्ट पर ट्रैफिक ज्यादा आता है तो इस लिंक के माध्यम से आपके दूसरे ( ब्लॉग कैसे बनाएं ) पोस्ट पर भी ट्रैफिक बढ़ता है।

10. High Quality Content लिखें

चाहे आप जितना भी SEO,SMO करलो या जितना भी अच्छा keyword placing करलो लेकिन आख़िर में घूम फिर कर बात कंटेंट पर ही आती है। इसीलिए content को SEO का king कहाँ जाता है। आपका article unique और informative नहीं है तो कोई फ़ायदा नहीं है seo का क्योंकि अगर आपका article readers को पसंद ही ना आये और आपके आर्टिकल से आपके रीडर्स अच्छी, नई जानकारी और पूरी जानकारी ना मिले तो उस आर्टिकल का कोई मतलब नहीं होगा। आर्टिकल useful, informative, reader friendly लिखें ताकि आपका आर्टिकल कोई पढ़े तो उसे उसकी need पूरी हो। और सर्च इंजन भी ऐसी आर्टिकल को ही पसंद करता है।

11. URL अच्छा बनाएं

URL को हमेशा post के title के जैसा ही रखना चाहिए और कभी भी url में _ या कोई special character का इस्तेमाल ना करें। जैसे What is SEO For beginners in hindi – एस ई ओ क्या हैं ? ये एक पोस्ट का टाइटल है तो इसका url https://technicalbasket.com/what-is-seo-for-beginners-in-hindi/ ऐसा होना चाहिए ना की https://technicalbasket.com/what-is-seo-for_beginners-in$hindi/, url से seo में काफी फर्क पड़ता है।

12. Meta Description का इस्तेमाल करें

search engine में यूजर कुछ भी सर्च करता है तो लाखों लिंक सर्च होकर आता है लेकिन यूजर description पढ़ कर ही समझ पता है की कौन सा article उसके लायक है या कौन सा नहीं। अगर में सीधी भाषा में समझाऊं तो डिस्क्रिप्शन किसी भी आर्टिकल का brief होता है और google boat भी description को main priority देता है। इसमें आपको गूगल को बताना होता है की आका पोस्ट किस बारे में है। डिस्क्रिप्शन में कुछ main keyword का इस्तेमाल करे और आपका डिस्क्रिप्शन 140 से 150 शब्द का होना चाहिए।

निष्कर्ष – seo friendly ब्लॉग पोस्ट कैसे लिखें?

दोस्तों ये पोस्ट काफी महत्पूर्ण है एक ब्लॉगर के लिए मेरा सलाह है की आप जब भी कोई आर्टिकल लिखे तो लिखने के बात ये सारि चीजें चेक करें की आपने सही से इस्तेमाल किया है या नहीं और अगर कही कुछ गलत है तो उसे सही करें पब्लिश करने से पहले। आर्टिकल लिखते समय आपको सिर्फ अपने आर्टिकल पर focus करना चाहिए की आप अपने कंटेंट को कैसे क्वालिटी कंटेंट बनाये

दोस्तों मुझे उम्मीद है की आप सबको ये लेख पसंद आया होगा अगर आपके मन में कोई सवाल या सुझाव है तो आप निचे कमेंट करें आपका सुझाव हमारे लिए काफी महत्पूर्ण है। अगर आपका कोई सवाल है तो हम पूरा कोशिश करेंगे हल करने का, ये पोस्ट पढ़ने के लिए धन्यवाद

Amit Bhardwaj

नमस्कार दोस्तों, मैं Amit Bhardwaj, Technical Basket का Technical Author & Founder हूँ. Education की बात करूँ तो मैं Computer Science Se Graduate हूँ. और प्रोफेशनली मैं एक वेब एंड ग्राफ़िक डिज़ाइनर हूँ और एक्सपीरियंस की बात करूँ तो मुझे 9 Years + का एक्सपीरियंस हैं ग्राफ़िक एंड वेब डिजाइनिंग में, मुझे नयी नयी Technology से सम्बंधित चीज़ों को सीखना और दूसरों को सीखने में अच्छा लगता है. अगर मेरा पोस्ट अच्छा लगे तो आप लोग अपना सहयोग दे ताकि मैं आप लोगो को नई नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहूँ :)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © 2019 -Technical Basket - All Rights Reserved.