What is Affiliate Marketing Hindi

what is affiliate marketing hindi? – क्या आप जानना चाहते हैं, कि एफिलिएट मार्केटिंग क्या है? और यह कैसे काम करता है? तो इस पोस्ट को जरूर पढ़ें।

एफिलिएट मार्केटिंग क्या है? और एफिलिएट मार्केटिंग कैसे काम करती है, और इससे पैसे कैसे कमाए जाते हैं? इस तरह के आपके मन में कई तरह की सवाल आ रहे होंगे? तो चलिए जानते हैं

affiliate marketing के बारे में आज का रुझान कंप्यूटर, इंटरनेट और ऑनलाइन शॉपिंग / मार्केटिंग में काफी ज्यादा है, और आने वाले टाइम में और बढ़ने वाला है|

बहुत सारे लोग ऑनलाइन व्यापार में रुचि दिखा रहे हैं, और ई-कॉमर्स साइट और व्यक्तिगत ब्लॉग द्वारा पैसा कमा रहे हैं।

आप में से जो लोग लंबे समय से ऑनलाइन व्यवसाय कर रहे हैं, ओ लोग affiliate marketing के बारे में जरूर जानते होंगे।

कई ब्लॉगर अपने ब्लॉग में इसका उपयोग करते हैं, और कुछ ब्लॉगर ऐसे हैं जो अपने ब्लॉग में इसका उपयोग नहीं करते हैं, या तो उन्हें affiliate marketing के बारे में अधिक जानकारी नहीं है या वे एफिलिएट मार्केटिंग करना ही नहीं चाहते हैं

इस लेख में आज मैं आपको Affiliate Marketing के बारे में बताने जा रहा हूं, ताकि जिन नए ब्लॉगर्स को इसके बारे में कोई जानकारी नहीं है, उन्हें पता चल जाएगा और जो इसे थोड़ा बहुत जानते हैं और संकोच में है की इसका इस्तेमाल करें या ना करें, वे इसका उपयोग करने वाले तथ्यों के बारे में भी जान पाएंगे।

आपको इस लेख को पूरी तरह से पढ़ना चाहिए ताकि, आपके Affiliate Marketing से संबंधित सभी रहस्य साफ हो जाएं, तो चलिए बिना देर किये शुरू करते हैं।

What is Affiliate Marketing hindi- एफिलिएट मार्केटिंग क्या है?

एफिलिएट मार्केटिंग एक ऐसा तरीका है जिसके माध्यम से एक ब्लॉगर अपनी वेबसाइट या ब्लॉग किसी कंपनी का प्रोडक्ट को बेचता है और जब कोई विजिटर उस प्रोडक्ट के लिंक पर क्लिक करके उस प्रोडक्ट को खरीदता है,

तो ब्लॉगर को उस प्रोडक्ट की कंपनी से एक कमीशन प्राप्त होता है। जो भी कमीशन उपलब्ध है, वह प्रोडक्ट पर निर्भर करता है कि वह किस प्रकार का
प्रोडक्ट है, जैसे कि फैशन और लाइफस्टाइल, इलेक्ट्रॉनिक्स प्रोडक्ट इत्यादि।

तो ब्लॉगर को उस प्रोडक्ट की कंपनी से एक कमीशन प्राप्त होता है। जो भी कमीशन उपलब्ध है, वह प्रोडक्ट पर निर्भर करता है कि वह किस प्रकार का
प्रोडक्ट है, जैसे कि फैशन और लाइफस्टाइल, इलेक्ट्रॉनिक्स प्रोडक्ट इत्यादि।

What is SEO For beginners in hindi – SEO क्या है?

ब्लॉग या वेबसाइट के माध्यम से Affiliate Marketing करने के लिए आपके वेबसाइट या ब्लॉग पर अधिक ट्रैफ़िक होना बहुत महत्वपूर्ण है।

प्रति दिन कम से कम 5000 विसिटोर्स होने चाहिए। यदि आपकी वेबसाइट नई है और कम विसिटोर्स हैं

तो आपको पहले आपने ब्लॉग या वेबसाइट पर विसिटोर्स बढ़ाना चाहिए क्योंकि, अगर आप अभी लगते हैं तो आपको कुछ ज्यादा लाभ नहीं मिल पायेगा, इसलिए यह बेहतर है कि आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर विसिटोर्स बढ़ाये।

Affiliate Marketing कैसे काम करता है?

इस प्रश्न का उत्तर उन लोगों को जानना बहुत महत्वपूर्ण है यदि वे अपना Affiliate शुरू करना चाहते हैं तो यह जानना बहुत महत्वपूर्ण है कि Affiliate Marketing कैसे काम करता है। यदि कोई उत्पाद आधारित कंपनी या संगठन अपने उत्पादों की बिक्री बढ़ाना चाहते हैं तो उन्हें अपने उत्पादों को बढ़ावा देना होगा। इसलिए कम्पनीज़ अपना एफिलिएट प्रोग्राम चलती है।

एफिलिएट मार्केटिंग एक कमीशन आधारित व्यवसाय है। जब कोई ब्लॉगर या वेबसाइट का मालिक Affiliate Marketing प्रोग्राम में शामिल होता है, तो कंपनी या संगठन जो इस प्रोग्राम को लॉन्च करती है, अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर अपने उत्पादों को डालने के लिए बैनर या लिंक प्रदान करती है। उसके बाद, ब्लॉगर उस लिंक या बैनर को अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर अलग – अलग जगह पर डालते हैं। और जब कोई विज़िटर्स उस प्रोडक्ट या सेवाओं को खरीदता हैं तो ब्लॉगर या वेबसाइट के मालिक को कंपनी कुछ हिस्सा कमीशन के तौर पर देती हैं

Affiliate Marketing से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण परिभाषाएँ

Affiliate Marketing में कुछ प्रकार के Terms का उपयोग किया गया है, जो सभी के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं। तो आइये कुछ ऐसी परिभाषा के बारे में जानकारी प्राप्त करते हैं।

एफिलिएट मार्केटप्लेस :

कुछ कंपनियाँ जो विभिन्न श्रेणियों मेंएफिलिएट प्रोग्राम की पेशकश करती हैं

Affiliate ID :

यह एक यूनिक आईडी है। प्रत्येक एफिलिएट को एफिलिएट प्रोग्राम्स द्वारा एक यूनिक आईडी दी जाती है, जो बिक्री में जानकारी एकत्र करने में मदद करती है। इस आईडी से आप अपने एफिलिएट अकाउंट में लॉगइन कर सकते हैं।

Affiliate Link :

यह एक ऐसा लिंक है जो प्रमोशन के लिए marketers के लिए प्रदान किया जाता है। Visitors लिंक पर क्लिक करके Product वेबसाइटों पर जाते हैं, जहां वे Product खरीद सकते हैं इसी लिंक के द्वारा बिक्री को ट्रैक किया हैं।

Commission:

एक सफल बिक्री के बाद, वह राशि जो ब्लॉगर या बेचने वाले (Affiliate) को दी जाती है। यह राशि हर बिक्री के अनुसार Affiliate को प्रदान की जाती है। यह बिक्री का प्रतिशत या पहले से तय की गई राशि हो सकती है।

Link Clocking:

एफिलिएट लिंक अक्सर URL Shortener का उपयोग करके link को थोड़ा छोटा किया जाता है, जिसे लिंक क्लोकिंग कहा जाता है।

Affiliate Manager:

Affiliate Program कंपनी कुछ व्यक्तियों को Affiliate की मदद करने और उन्हें सही सुझाव (टिप्स) देने के लिए नियुक्त करती है, जिन्हे Affiliate Manager कहा जाता है।

Payment method:

भुगतान विधि भुगतान प्राप्त करने का एक तरीका है। इसका मतलब है कि वह माध्यम जिसके माध्यम से आपको अपना कमीशन दिया जाएगा। विभिन्न सहयोगी विभिन्न मोड प्रदान करते हैं। जैसे चेक, वायर ट्रांसफर, Paypal इत्यादि।

Payment thresholds:

कंपनी कुछ न्यूनतम बिक्री करने के बाद आपको कमिशन देना सुरु करती हैं, इस बिक्री को करने के बाद आप भुगतान प्राप्त करने केपात्र होंगे। इसे भुगतान सीमा कहा जाता है। अलग अलग प्रोग्रामो में भुगतान की न्यूनतम बिक्री की सीमा अलग अलग होती है।

How to Start a Blog Hindi | ब्लॉग कैसे शुरू करें

Affiliate Program कैसे ज्वाइन करें

Affiliate Marketing से कमाने के लिए हमें किसी भी एफिलिएट प्रोग्राम में रजिस्ट्रेशन करना होगा। अब बात आती हैं की रजिस्ट्रेशन कैसे करें और कहा करें|

अब सवाल उठता है की एफिलिएट प्रोग्राम कौन कौन कंपनी पेश करती है? तो इसका उत्तर यह है कि इंटरनेट पर कई कंपनियाँ हैं जो Affiliate Program की पेशकश करती हैं, उनमें से कुछ बहुत प्रसिद्ध हैं जैसे कि Amazon, Flipkart, Snapdeal, Godady, bluehost, clickbank , आदि। ऐसी सभी कंपनियां Affiliate Program हैं, जिनमें आप बस साइन अप कर सकते हैं। या कंपनी के साथ पंजीकरण करें और आप उनके उत्पादों का चयन करके और उनके लिंक या विज्ञापनों को अपने ब्लॉग में जोड़कर बहुत पैसा कमा सकते हैं। और साइन अप या रजिस्टर करने के लिए हमें कंपनी को कुछ भी भुगतान नहीं करना पड़ता है।

एफिलिएट कंपनी को ज्वाइन करने के लिए आपको कुछ स्टेप्स को फॉलो करना होगा जिसे फॉलो करते ही आप अपनी एफिलिएट इनकम आसानी से शुरू कर सकते हैं। यहां नीचे मैं कुछ स्टेप बता रहा हूँ आप उसे फॉलो करले सबसे पहले, आपको उस कंपनी के एफिलिएट पेज पर जाना होगा जिसका एफिलिएट प्रोग्राम से जुड़ना चाहते है,जैसे कि आपको अमेजन से जुड़ना है तो आपको अमेज़न एफिलिएट पेज पैर जा कर एक न्यू अकाउंट बनाना होगा जहां आपसे कुछ महत्वपूर्ण जानकारी मांगी जाएगी जैसे कि –

नाम
पता
ईमेल आईडी
मोबाइल नंबर
पैनकार्ड डिटेल
ब्लॉग / वेबसाइट यूआरएल (जहां आप कंपनी के उत्पाद का प्रचार करेंगे)
भुगतान विवरण (अकाउंट डिटेल्स )

Affiliate Program भुगतान कैसे करता है?

जैसे की मैंने ऊपर बताया है की विभिन्न Affiliate Program में कंपनी अपने Affiliates को भुगतान करने के लिए कौन से मोड का समर्थन करते हैं। लेकिन लगभग सभी कार्यक्रम भुगतानों के लिए बैंक हस्तांतरण और पेपाल की आवश्यकता होती है। Affiliate Program में उपयोग किए जाने वाले कुछ terms हैं जिन पर Affiliate को कमीशन दिया जाता है।

CPM (Cost Per 1000 impressions)

CPM – ये एक amount है जो merchant द्वारा (यानि की product के मालिक द्वारा) affiliate को उसके blog के page पर लगाये हुए उन products के ad पर 1000 views होने पर merchant affiliate को views के आधार पर commission देता है.

CPC (Cost Per Sale)

यह राशि Affiliate द्वारा प्राप्त की जाती है जब Affiliate के ब्लॉग या वेबसाइटविज़िटर्स प्रोडक्ट्स को खरीदता है। तो प्रोडक्ट्स को खरीदने वालों की संख्या के आधार पर, affiliate को हर एक खरीद पर कमीशन मिलता है।

CPC (Cost per click)

Affiliate के ब्लॉग पर लगाए हुए विज्ञापन, बैनर, लिंक पर विज़िटर्स के हर क्लिक पर एक कमीशन मिलता है।

क्या हम एक साथ Affiliate Marketing और Google Adsense का उपयोग कर सकते हैं?

इसका जवाब हां है, Affiliate Marketing के साथ, आप Google Adsense की तुलना में अधिक और कम समय में पैसा कमा सकते हैं। और यह Google Adsense सेवा की शर्तों के खिलाफ नहीं है क्योंकि यह पूरी तरह से legal है। आप आराम से अपने ब्लॉग में दोनों का उपयोग कर सकते हैं।

Popular Affiliate मार्केटिंग वेब्सीटेस कौन कौन सी है ?

इंटरनेट पर बहुत सारी Affiliate Marketing कंपनियां उपलब्ध हैं, लेकिन आज मैं आपको कुछ सबसे लोकप्रिय और सर्वश्रेष्ठ कंपनियों के बारे में बताऊंगा जो आपको अधिक कमीशन देती हैं।

Affiliate Marketing

Best Affiliate Marketing Sites

  1. Amazon Affiliate
  2. Snapdeal Affiliate
  3. Clickbank
  4. Commission Junction
  5. eBay
  6. Bluehost
  7. Godady etc.

निष्कर्ष – What is Affiliate Marketing Hindi – एफिलिएट मार्केटिंग क्या है?

मुझे उम्मीद है की आप What is Affiliate Marketing Hindi समझ आगया होगा की Affiliate Marketing क्या है?| अगर आपके मन में कोई सवाल हैं, तो आप मुझे कमेंट कर सकते हैं, या कोई सुझाव है, तो आप मुझे मेल लिख सकते है Affiliate Marketing क्या है? यह पोस्ट पढ़ने के लिए धन्यवाद। अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ FacebookTwitter पर शेयर करें।

Technical Author
नमस्कार दोस्तों, मैं Amit Bhardwaj, Technical Basket का Technical Author & Founder हूँ. Education की बात करूँ तो मैं Computer Science Se Graduate हूँ. और प्रोफेशनली मैं एक वेब एंड ग्राफ़िक डिज़ाइनर हूँ और एक्सपीरियंस की बात करूँ तो मुझे 8 Years + का एक्सपीरियंस हैं ग्राफ़िक एंड वेब डिजाइनिंग में, मुझे नयी नयी Technology से सम्बंधित चीज़ों को सीखना और दूसरों को सीखने में अच्छा लगता है. अगर मेरा पोस्ट अच्छा लगे तो आप लोग अपना सहयोग दे ताकि मैं आप लोगो को नई नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहूँ :)

2 thoughts on “What is Affiliate Marketing Hindi

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *