What is Data Processing – डाटा प्रोसेसिंग क्या है? डाटा प्रोसेस कैसे होता है?

What is Data Processing – डाटा प्रोसेसिंग क्या है? डाटा प्रोसेस कैसे होता है?

What is Data Processing – डाटा प्रोसेसिंग क्या है? – इस पोस्‍ट में हम जानने वाले हैं डाटा प्रोसेसिंग परिभाषा क्या है डाटा प्रोसेस कैसे होता है।

Data Processing के बारे में जानने से पहले यह जानना जरुरी है की data क्या है? हो सकता है आपलोग यह जानते हो की data क्या है। लेकिन जो लोग नहीं जानते है उन्हें मैं बता दूँ की डाटा किसे कहते है ?

What is Data in Hindi? हम सभी ने कभी न कभी तो data शब्द का इस्तमाल जरुर किया होगा. लेकिन उसके वाबजूद भी हमारे मन में कई बार ये सवाल जरुर उठता है की आखिर में ये Data क्या है, और इसे महत्वपूर्ण क्यूँ माना जाता है. यदि आप भी data और डाटा प्रोसेसिंग के बारे में जानना चाहते हैं तब आपको ये article पूरा पढ़ना चाहिए। इस पोस्ट में मैं data और डाटा प्रोसेसिंग से जुड़ी हुई सभी जानकारी को मैंने इस article के जरिये आपको समझाने की कोशिश करी है।

आज लगभग हर कोई कंप्यूटर का उपयोग करता है तो “Data” शब्द आपने सुना ही होगा। data एक computer से सम्बंधित term है जिस पर सारा कार्य होता है। डाटा कंप्यूटर में इनपुट और आउटपुट किया जाता है। ये डाटा किसी भी खिलाड़ी का कैरियर रिकॉर्ड, स्कूल में बच्चो की संख्या, भारत की आबादी, किसी का नाम, अस्पतालों में मरीजों की संख्या इत्यादि. ये सभी चीज़ें इनके natural form में organized या structured नहीं होती है इसलिए इनका ज्यादा इस्तमाल नहीं किया जा सकता. ये सभी Terms डाटा (Data) कहलाते है। डाटा को कंप्यूटर में मैनेज, कंट्रोल और प्रोसेस किया जाता है।

वहीँ अगर इसी data को processes, organized, structured कर present किया जाये किसी एक particular context में उन्हें useful बनाने के लिए तब इसे Information कहा जाता है. चलिए और विस्तार में जानते है data, उसके प्रकार और उनके इस्तमाल के बारे में।

data क्या है? – What is Data in Hindi?

Data को Information भी कहते है या यूं कहिये की Information ही “Data” है। इनपुट किये गए Processed Data को Information कहते है। Information यूजर के लिए Important होती है।

Data अपने raw form में किसी काम का नहीं होता है. लेकिन उसी data को जब हम process और interpret करते हैं तब जाकर उनका सही मतलब सामने आता है, और जो की हमारे लिए बहुत उपयोगी होते हैं. इन्ही processed data को Information कहा जाता है.

उदाहरण के तौर पर – जैसे की आप हमारी पोस्ट “डाटा प्रोसेसिंग क्या है? डाटा प्रोसेसिंग के प्रकार?” (Data Processing Kya Hai) Read कर रहे है, तो यह पोस्ट आपके लिए इन्फॉर्मेशन है। हमनें Data को Processed करके आपके लिए यह Information तैयार की है। data को और विस्तार में जानने के लिए हमारा data क्या है? ये पोस्ट पढ़े।

अब आपलोग जान चुके है की डाटा क्या है अब बात आती है डाटा प्रोसेसिंग क्या है, तो चलिए अब जानते है की डाटा प्रोसेसिंग की बारे में।

Cloud Computing Kya Hai और इसके उपयोग क्या हैं? इसे भी पढ़े

What is Data Processing – डाटा प्रोसेसिंग क्या है?

डेटा प्रोसेसिंग डेटा को रूपांतरण योग्य और इच्छित रूप में परिवर्तित करना है। यह रूपांतरण या “प्रोसेसिंग” मैन्युअल रूप से या स्वचालित रूप से संचालन के पूर्वनिर्धारित अनुक्रम का उपयोग करके किया जाता है। अधिकांश डेटा प्रोसेसिंग कंप्यूटर का उपयोग करके की जाती है और इस प्रकार स्वचालित रूप से किया जाता है। आउटपुट या “प्रोसेस्ड” डेटा को इमेज, ग्राफ, टेबल, वेक्टर फाइल, ऑडियो, चार्ट या किसी अन्य इच्छित प्रारूप जैसे सॉफ्टवेयर या डेटा प्रोसेसिंग की विधि के आधार पर प्राप्त किया जा सकता है। जब स्वयं किया जाता है तो इसे स्वचालित डाटा प्रोसेसिंग कहा जाता है।

Data Processing कैसे होता है?

डेटा प्रोसेसिंग undertaken by any activity which requires a collection of data. एकत्र किए गए इस Raw Data से Information बनाने तक इस पूरी प्रक्रिया को complete करने के लिए 6 सरल प्राथमिक चरणों में विभाजित किया गया है जो निम्न हैं:

  • Data collection
  • Storage of data
  • Sorting of data
  • Processing of data
  • Output Data
  • डाटा संग्रह (Data collection) – सबसे पहला स्टेप “Data Collection” होता है। इसमें Data को विभिन्न Sources से Collect किया जाता है। जैसे वेबसाइट, सर्वे, इत्यादि, इनपुट करने से पहले Collected Data को वेरीफाई किया जाता है। इससे डाटा के Right या Wrong होने का पता चलता है।
  • Data Storage – इस चरण में Collect किये गए डाटा को किसी एक जगह पर Organize करके स्टोर किया जाता है जैसे मान लीजिये आपने किसी कंपनी के employee का डाटा Collect किया है लेकिन आपको सभी employee का केवल Contact से संबधित (मोबाइल नंबर, ईमेल आदि) डाटा चाहिये तो बाकी डाटा को छोडकर केवल सभी employee के Contact से संबधित डाटा को Organize करके Stora करेंगे। डेटा प्रोसेसिंग का अंतिम चरण स्टोरेज है। डेटा के सभी संसाधित होने के बाद, इसे भविष्य के उपयोग के लिए संग्रहीत किया जाता है।संग्रहीत डेटा GDPR जैसे डेटा सुरक्षा कानून के अनुपालन के लिए एक आवश्यकता है। जब डेटा को ठीक से संग्रहीत किया जाता है, तो यह आवश्यक होने पर संगठन के सदस्यों द्वारा जल्दी और आसानी से एक्सेस किया जा सकता है।

  • Data Sorting – इस चरण में Store किये गए Data को बढ़ते से घटते क्रम (Descending) में लगाना या घटते से बढते क्रम (Ascending) में लगाना या अल्फाबेट के according arrange करने को डाटा सॉर्टिंग (Data sorting) कहते है
  • Data Processing – इस चरण में Raw Data को Information बनाने की परिक्रिया होती है जैसे I,A,M,G,O,I,N,G,T,O,H,O,M,E ये Raw डाटा है जो हमने alphabet इनपुट किया है ये डाटा को प्रोसेस करने के बाद एक इनफार्मेशन बनेगा जैसे “I am going to home” ये एक इनफार्मेशन है। डाटा को विभिन्‍न तरीके से प्रोसेस किया जाता हैं। कम्‍प्‍यूटर टेक्नोलॉजी के आने के से डाटा की प्रोसेसिंग इलेक्‍ट्रॉनिक तरीके से होने लगी हैं। इलेक्‍ट्रॉनिक डाटा प्रोसेसिंग के बहुत लाभ हैं। यद्यपि इनकी कुछ हानियाँ भी हैं। अत: इलेक्‍ट्रॉनिक डाटा प्रोसेसिंग (EDP), इलेक्‍ट्रॉनिक साधनों द्वारा डाटा का सार्थक सूचना में रूपान्‍तरण हैं। सामान्‍यत: EDP में कम्‍प्‍यूटर का उपयोग किया जाता हैं। तेज गति, प्रोसेसिंग की परिशुद्धता और डाटा की विशाल मात्रा को स्‍टोर करने की क्षमता ने कम्‍प्‍यूटर को डाटा प्रोसेसिंग का शाक्तिशाली टूल बना दिया हैं।
  • Output Data – इस चरण में प्रोसेस्ड डाटा को उपयोग करने योग इंफोर्मशन बना कर आउटपुट / रिजल्ट के रूप में दिया जाता है जिसे आप अपने जरुरत के according उपयोग कर सकें Output Data अलग अलग रूप में हो सकता है जैसे – Text, Video, Image, इत्यादि।

डाटा प्रोसेसिंग के किन किन तरीकों से किया जा सकता है?

  • मैनुअल डेटा प्रोसेसिंग (Manual data processing): इस पद्धति में डेटा को मशीन, टूल या इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस के उपयोग के बिना मैन्युअल रूप से संसाधित किया जाता है। डेटा मैन्युअल रूप से संसाधित किया जाता है, और सभी गणना और तार्किक संचालन डेटा पर मैन्युअल रूप से किए जाते हैं।
  • मैकेनिकल डेटा प्रोसेसिंग (Mechanical data processing)- डेटा प्रोसेसिंग एक मैकेनिकल डिवाइस या कैलकुलेटर और टाइपराइटर जैसे बहुत ही सरल इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के उपयोग द्वारा किया जाता है। जब प्रसंस्करण की आवश्यकता सरल है, तो इस विधि को अपनाया जा सकता है।
  • इलेक्ट्रॉनिक डाटा प्रोसेसिंग (Electronic data processing) – यह डेटा को प्रोसेस करने की आधुनिक तकनीक है। उच्चतम विश्वसनीयता और सटीकता के साथ इलेक्ट्रॉनिक डेटा प्रोसेसिंग सबसे तेज़ और सर्वोत्तम उपलब्ध तरीका है। उपयोग की जाने वाली तकनीक नवीनतम है क्योंकि इस पद्धति का उपयोग कंप्यूटर करते हैं और अधिकांश एजेंसियों में कार्यरत हैं। सॉफ्टवेयर का उपयोग इस प्रकार के डेटा प्रोसेसिंग का हिस्सा बनता है। डेटा को कंप्यूटर के माध्यम से संसाधित किया जाता है; डेटा और निर्देशों का सेट कंप्यूटर को इनपुट के रूप में दिया जाता है, और कंप्यूटर निर्देशों के दिए गए सेट के अनुसार डेटा को स्वचालित रूप से संसाधित करता है। कंप्यूटर को इलेक्ट्रॉनिक डाटा प्रोसेसिंग मशीन के रूप में भी जाना जाता है।

Data Warehousing kya hai? और इसका concept क्या है? इसे भी पढ़े

Data Processing क्यों महत्पूर्ण है?

आजकल अकादमिक, वैज्ञानिक अनुसंधान, निजी और व्यक्तिगत उपयोग, संस्थागत उपयोग, वाणिज्यिक उपयोग के लिए अधिक से अधिक डेटा एकत्र किया जाता है। इस एकत्र किए गए डेटा को संग्रहीत करने, छांटने, फ़िल्टर करने, विश्लेषण करने और प्रस्तुत करने की आवश्यकता होती है क्योंकि collect किया गया डाटा row Data होता है। जिसका उपयोग इनफार्मेशन के तौर पर नहीं किया जा सकता है बिना Data Processing के। इसलिए डेटा प्रोसेसिंग की आवश्यकता अधिक से अधिक महत्वपूर्ण हो जाती है।

किस प्रकार के डेटा को Processing करने की आवश्यकता होती है?

किसी भी रूप और किसी भी प्रकार के डेटा को अधिकांश समय Processing की आवश्यकता होती है। इन आंकड़ों को व्यक्तिगत जानकारी, वित्तीय लेनदेन, कर क्रेडिट, बैंकिंग विवरण, कम्प्यूटेशनल डेटा, छवियों इत्यादि हैं हालाँकि लगभग सभी प्रकार के डाटा को प्रोसेसिंग की जरुरत होती ही है।

निष्कर्ष – What is Data Processing – डाटा प्रोसेसिंग क्या है? डाटा प्रोसेसिंग के प्रकार?

दोस्तों मुझे उम्मीद आपलोगों को समझ आगया होगा की डाटा प्रोसेसिंग क्या है अगर आपके मन में कोई सवाल या सुझाव है तो आप हमें निचे कमेंट करें, हम आपके सवाल को हल करने की कोशिश करेंगे और आपका सुझाव हमारे लिए काफी महत्पूर्ण है आपतक अछि और पूरी जानकारी पहुंचने के लिए।

ये पोस्ट पढ़ने के लिए धन्यवाद हमारे साथ Social Media पर जुड़ने के लिए हमें फॉलो करें Twitter और Facebook पर।

Amit Bhardwaj

नमस्कार दोस्तों, मैं Amit Bhardwaj, Technical Basket का Technical Author & Founder हूँ. Education की बात करूँ तो मैं Computer Science Se Graduate हूँ. और प्रोफेशनली मैं एक वेब एंड ग्राफ़िक डिज़ाइनर हूँ और एक्सपीरियंस की बात करूँ तो मुझे 9 Years + का एक्सपीरियंस हैं ग्राफ़िक एंड वेब डिजाइनिंग में, मुझे नयी नयी Technology से सम्बंधित चीज़ों को सीखना और दूसरों को सीखने में अच्छा लगता है. अगर मेरा पोस्ट अच्छा लगे तो आप लोग अपना सहयोग दे ताकि मैं आप लोगो को नई नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहूँ :)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © 2019 -Technical Basket - All Rights Reserved.